दावत-ए-मुर्गा --- ठंडी के दिनों में पिकनिक

बड़ा दिन यानि 25 दिसंबर का दिन हम सभी धूम-धाम से मानते हैं और मनाते हैं। कहीं कोई केक और पेस्ट्रीज खाता है, कोई गिरजा घर जाता है, कोई सिन...

बंदरों का आतंक

इंसान और बंदर देखने में तो काफी अलग होते हैं पर ढांचा बिलकुल एक जैसा । वही २ कान २ आँखें १ नाक और मुँह वही १०-१० उँगलियों के पंजे पर सिर्फ ...

देशी गन्ने का जूस- अमृत से सत्कार

गर्मी का महीना, भरी दोपहरी, कड़क धुप और उसपे  अगर मोटरसाइकिल से पड़ोस के गॉव में अपने किसी  हितैषी से मिलने जाना हो तो भी ये चिलचिलाती गर्मी ...

गांघी जी के तीन गुणी बन्दर

जैसा की यह चित्र देख कर पता चल रहा है के भारत के स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त का दिन है एवं झंडा फहराने के बाद का दृश्य है।  The image i...

पागलों की अपनी छोटी सी दुनिया

Mattress of Junk  इस दुनिया में पागलों की कमी नहीं है! कुछ होते हैं पर दीखते नहीं और जो दीखते हैं वो होते नहीं! इन्हे न कोई रोकने ...