Recent Trend

भारत एवं दुनिया का पहला ऐसा बैंक अकाउंट जो आपके फेसबुक और ट्विटर से चलता हो!

0
चौंकिए मत, न तो आप पगला गए हैं और न ही मैं! आपकी जानकारी के लिए बता दूँ के आपने ऊपर जो शीर्षक पढ़ा वो पुर्णतः सत्य ही है! शायद ही किसीने सन् 2007 में सोचा होगा के Orkut जैसे Social Networking Website के आने से और उसके इस्तेमाल एवं प्रचलन से Online Social Networking की जो लत हमलोगों को लगेगी वो फेसबुक और ट्विटर पर आकर नहीं रुकेगी, बल्कि कुछ नया करने की होड़ में Kotak Mahindra Bank इस social media को एक ऐसा रूप देगा के आप भी दंग रह जायेंगे! अब आप Social Networking Website पर सिर्फ पोकिंग और रिट्विटिंग ही नहीं बल्कि बैंकिंग भी कर सकेंगे! जी हाँ,  Kotak Mahindra Bank आपके लिए लाये हैं Jifi, एक ऐसा अनूठा बैंक अकाउंट जो खुलता भी आपके फेसबुक अकाउंट के वजह से है और चलता भी आपकी फेसबुक और ट्विटर अकाउंट के जरिये ही है!
                               कहने को तो फेसबुक 2005 से ही सार्वजनिक हो गया था, पर अगर कल्पना की जाये के उन सालों में भारतीय मूल के लोग बैंकिंग और बैंक की सुविधाओं का कितना लाभ उठाते थे तो हमारे सामने वह छवि आजायेगी जहाँ लोगों को कोसों दूर चल कर बैंक जाना पड़ता था! मीलों दूर किसी बड़े चौराहे या नुक्कड़ पर ही इक्का-दुक्का बैंक दिखा करते थें! ऐसा दृश्य भी तभी देखने मिलता था जब आप शहरी इलाके में रहते हो, वरना गाओं में तो बैंक का नामो-निसान नहीं था और अगर था भी तो 8 -10  लाख लोगों की आबादी पर एक या मुश्किल से दो (सरकारी एवं ग्रामीण) बैंक दिख जाते थे! आलम ये था के कुछ गिने चुने (हस्ताक्षर करने वाले) लोगों को छोड़ कर, बाकि सभी लोगों के बैंक खाते में प्रत्येक लेन -देन आपके अंगूठे से ही होता था! जो अनपढ़ थे उन्हें न जमा या निकासी पर्ची भरने आता न ही पैसा गिनने, ऐसे लोगों ने बैंकिंग को भी ज्यादा तवज्जो नहीं दिया! E-statement और SMS Alert तो दूर की बात थी, तब के समय पासबुक से ही सरे काम होते थें!
                                अब समय बदल चूका है, पीढ़ी बदल चुकी है और भारत भी बदल रहा है! हम सब साक्षर है, हस्ताक्षर करना तो कक्षा 4 में ही सिख चुके थें और बैंकिंग पिता जी से सीखा! घर का पता तो सबके पास होता था, हमारा भी है, आपका भी है, पर साथ में फेसबुक, ट्विटर और ब्लॉग का पता भी है!  गए दिन जब सिर्फ घर के पते पर चिट्ठी-पत्री देकर बैंक आपसे नज़दीकियां बनाती थी! आज का युग है के बैंक आपके घर के दरवाजे से नहीं बल्कि आपके कम्प्यूटर, मोबाइल फ़ोन और Social Networking Website के दरवाज़े से अंदर अाये! इंटरनेट की गति, ध्वनि के गति से भी तेज़  है, अतः, इस इंटरनेट के माध्यम से बैंक और ग्राहक को जोड़ने का अथक प्रयास आरम्भ हो चूका है!

                                ऐसे ही एक अथक प्रयास का नाम है 'जिफी' जो की एक जीरो बैलेंस चालू खाता है जिसे आप अपने ट्विटर हैंडल या फेसबुक से जोड़ कर चेक बुक मंगवाना, अकाउंट बैलेंस देखना, लेन-देन का विवरण जैसे अनेको सेवाएं ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं! शुरुआती दौड़ में सिर्फ कुछ चुनिंदा शहरों के लोग नया अकाउंट खुलवा सकते हैं! अपना खुदका नया जिफी बैंक अकाउंट खोलना भी बहोत आसान है, बस अपने फेसबुक या ईमेल की जानकारी कोटक जिफी को यहाँ (क्लिक करें) दें और अपना नया जिफी अकाउंट खोलने का निमंत्रण पाते ही एक सरल सा फॉर्म भरिये और आपका अकाउंट-नंबर बन कर तैयार हो जायेगा! फिर क्या, बैंक से लोग आपके घर पे आएंगे, उन्हें  KYC अनुसार जरुरी कागज़-पत्तर दे दीजिये और साथ में 5000 रुपये का चेक, जो की जब तक आपके कागजों का verification नहीं हो जाता तब तक के लिए ही रखना है, उसके बाद आप बैंकिंग द्वारा या ऑनलाइन खरीदारी कर पुरे 5000 भी निकाल या इस्तेमाल कर सकते हैं क्यूंकि इस जिफी अकाउंट में 25000 रुपये से कम रहने पर सूद नहीं मिलता और अगर आपके खाते में 25000 से ज्यादा की धन-राशी है तो वह स्वतः जमा खाते/Fixed deposit में जमा हो जायेगा और उसपे आपको बाजार दर के हिसाब के interest/सूद भी मिलेगा!

                                 इस आधुनिक Social चालू खाते की एक और आधुनिकता ये है के बैंक को किये गए आपके ट्वीट और कमेंट या अपने मित्रों को 'जिफी' के लिए न्योता देने पर आपको इनाम स्वरुप कुछ अंक मिलते रहेंगे, या अगर आप अपने Jifi account के जरिये रुपये का ट्रांज़ैक्शन करते हैं तो उसपे भी आपको loyalty points मिलेंगे जो की आप बाद में पॉइंट के बदले रुपये भी ले सकते हैं! ऐसा loyalty programme दीर्घकालिक/longterm समय के दृष्टिकोण से उत्साहवर्धक है! इन जमा किये हुए अंको को अपने Jifi current account वाले मित्रों के साथ आदान-प्रदान भी किया जा सकता हैं! इसकी आधुनिकता में कोई कमी न रह जाये इसलिए इसके साथ आपको मिलता है VISA Platinum Debit Card जो की आपके ATM या ऑनलाइन ट्रनैक्शन के लिए उत्कृष्ट होगा! बाकि कोई अगर कमी रह गयी हो तो आप इसका Mobile application भी अपने स्मार्टफोन पर डाउनलोड कर इस्तेमाल कर सकते हैं! 
                                 बस और क्या, आप घर पर हों, या ऑफिस में, सुबह हो या शाम, सोमवार हो या इतवार, अब न बैंक जाने का झमेला न पास बुक अपडेट करवाने का! बस अपना लिंक किया हुआ ट्विटर या फेसबुक खोलिए और 24x7 अपने बैंक को अपने साथ, अपने हाथ में रखिये!  ऐसा बहोत कम ही होता है के एक ही दुकान में आपको सारा सामान मिल जाये और आपको किसी दूसरे दुकान के दर्शन न करने पड़े! कुछ ऐसी ही सर्विस लेकर Jifi हमारे सामने आया हैं ,इसके बारे में और अधिक जानकारी के लिए https://www.kotakjifi.com/ पर लॉग-इन करिये और खुद जान जाइए इसकी अच्छाइयां!
Powered by Blogger.